A-AA+
A-AA+
Select Page

कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व

होम / दीर्घोपयोगिता / कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व

सीएसआर हेतु पहलें

शिक्षा: ईआईएल ने दिल्ली/राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में समाज के वंचित वर्ग के 60 बच्चों को बुनियादी औपचारिक शिक्षा और गुरूग्राम हरियाणा में निर्माण स्‍थलों पर लगे 300 विस्थापित बच्चों को अनौपचारिक शिक्षा के लिए सहायता प्रदान की । दिल्ली/एनसीआर में वंचित वर्ग के बच्चों को कम्प्यूटर में प्रशिक्षित करने के उद्‌देश्य से ”वंचित वर्ग के 136 बच्चों को कम्प्यूटर साक्षरता” नाम से एक परियोजना का सहयोग किया गया। इस क्षेत्र में अन्य प्रमुख सीएसआर कार्यकलापों में म्यूनिसिपल प्राइमरी स्कूल कासी कोयल कुप्पम, थिरूवल्लूर, तमिलनाडू में चारदीवारी का निर्माण और काब्वेनूर, धारवाड़, कर्नाटक में सरकारी स्कूल भवन के निर्माण के लिए निर्मिथी केन्द्र को सहायता प्रदान किया जाना शामिल है ।

स्वास्थ्य देखभाल: स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण पहलें की गई जिसमें दिल्ली की स्‍लम बस्तिायों में रहने वाले वंचित वर्ग के के लोगों के लिए ”बीमारी के बोझ को कम करके गरीबी अवरोधक को तोड़ना” परियोजना के लिए चिकित्सा उपकरणों का संस्थापन और ओडिसा के गावों में किफायती स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल सेवाएं के लिए मोबाईल चिकित्सा देखभाल उपलब्ध कराना आदि शामिल है।

पेयजल/स्वच्छता: ईआईएल ने स्वच्छ विद्यालय परियोजना के अन्तर्गत आसाम, बिहार, ओडिसा और तमिलनाडू में स्वच्छता सुविधाओं के निर्माण/मरम्मत में सहायता प्रदान की। कम्पनी ने काकीनाडा, आन्ध्रप्रदेश में 6 स्थानों पर आरओ प्लांट की स्थापना और कर्नाटक के धारवाड़ जिले में 20 आरओ प्लांट के निर्माण में मदद की।

ग्रामीण विद्युतीकरण: उत्तर प्रदेश के भदोही और श्रावस्ती प्रत्येक जनपद में 100 से अधिक सौर फोटो वोल्टि‍क आधारित एल०ई०डी० स्ट्रीट लाइटिंग सिस्टम की स्थापना में सहायता प्रदान की।

महिला सशक्तीकरण: जिला बोलांगीर, ओडिसा के जनजाति की 120 महिलाओं की आर्थिक सशक्तीकरण हेतु कार्यशील साक्षरता कार्यक्रम का आयोजन किया। इसके साथ ही गौतम बुद्ध नगर स्थित कासना जेल के 49 महिला कैदियों के लिए कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम सिलाई, ड्रेस तैयार करने एवं ब्यूटीशियन व्यवसाय के लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया।

अल्‍पसुविधा प्राप्‍त वर्ग का उत्थान: समाज के वंचित वर्ग के उद्धार के लिए लक्षित सीएसआर कार्य में द्वारका स्थित ”बुजुर्ग अंधे व्यक्तिओं के लिए एनएबी होम के प्रथम तल का निर्माण, रामकृष्ण मिशन आश्रम नई दिल्ली में सोलर पी०वी० प्लांट की स्थापना और दिल्ली की 30 स्‍लम बस्तियों में रह रहे तथा बिस्‍तर पर पड़े बुजर्ग रोगियों को डायपर का वितरण शामिल है। ओडिसा के भुवनेंश्वर, बोलांगीर और पारादीप जिले एवं आसाम के डिब्रूगढ़ जिले के दिव्यांग गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को सहायक उपकरण वितरित करने हेतु कैम्प का आयोजन किया। ईआईएल के कार्यक्षेत्र के आस-पास 10 कैम्प आयोजित किये जाने की योजना है। इस क्षेत्र में एक और अन्‍य पहल दिल्ली में योग, प्राकृतिक चिकित्सा और शोध के लिए विवेकानन्द केन्द्र की स्थापना में मदद करना है जिसका कार्य प्रगति पर है।

सायुदायिक विकास: यनम में आरसीसी रिटेनिंग वॉल/सड़क के किनारे नालियां/कम्पाउंड वॉल का निर्माण।

व्यवसायिक प्रशिक्षण/कौशल केन्द्र: भरूच, गुजरात में अनुसूचित जाति/जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले 55 अभ्‍यर्थियों को रोजगार सृजन एवं कौशल विकास के प्रशिक्षण हेतु सहयोग किया । कम्पनी ने आसाम आंध्र प्रदेश, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश और झारखण्ड के अनुसूचित जाति/जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग/ महिला एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के 1600 अभ्यर्थियों के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण में सहयोग किया । इसी प्रकार आसाम, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक राजस्थान, तमिलनाडु और तेलगांना के 300 दिव्यांगो के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। ईआईएल ने कोच्चि और विशाखापत्तनम में कौशल विकास संस्थान की स्‍थापना में भी सहयोग किया ।

External site alert

This link shall take you to a webpage outside https://engineersindia.com/hindi. For any query regarding the contents of the linked page, please contact the webmaster of the concerned website.