A-AA+
A-AA+
Select Page

नई दिल्ली, 3 दिसंबर, 2020: इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड (ईआईएल) और सीएसआईआर-नेशनल केमिकल लेबोरेटरी (सीएसआईआर-एनसीएल) ने प्रौद्योगिकियों के विकास और व्यावसायीकरण हेतु एक करार ज्ञापन (एमओए) तथा एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।
श्री अश्विनी कुमार नांगिया, निदेशक सीएसआईआर-एनसीएल और श्री सुरेश सी, गुप्ता, मुख्‍य महाप्रबंधक एवं प्रमुख, अनुसंधान एवं विकास प्रभाग, ईआईएल ने दिनांक 10 नवंबर, 2020 को एमओयू पर हस्ताक्षर किए । तदुपरांत, दिनांक 26 नवंबर, 2020 को सुश्री वर्तिका शुक्ला, निदेशक (तकनीकी), ईआईएल की उपस्थिति में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से करार ज्ञापन (एमओए) पर हस्ताक्षर किए ।
यह समझौता उभरती मेथनॉल अर्थव्यवस्था के लिए निम्नलिखित अभिन्‍न प्रौद्योगिकियों के तीव्र विकास का मार्ग प्रशस्त करेगा :

  1. मेथनॉल को डी-मिथाइल ईथर (डीएमई) में बदलने हेतु प्रौद्योगिकी का विकास
  2. सिन गैस से मेथनॉल सिंथेसिस हेतु प्रौद्योगिकी का विकास
  3. कोयला आधारित सिन गैस हेतु अवशोषक/ उत्प्रेरक का विकास

डी-मिथाइल ईथर (डीएमई) के साथ एलपीजी के लिए एक नया ठोस विकल्‍प और संभावित सम्मिश्रण के रूप में उभर रहा है। सीएसआईआर-एनसीएल की कटैलिसीस और कैमिकल एक्‍पर्टाइज तथा ईआईएल के इंजीनियरिंग कौशल के बीच तालमेल से देश के एलपीजी / क्रूड बिल में उल्लेखनीय कमी आएगी और आत्मानिर्भर भारत पहल को बढ़ावा मिलेगा।

External site alert

This link shall take you to a webpage outside https://engineersindia.com/hindi. For any query regarding the contents of the linked page, please contact the webmaster of the concerned website.