A-AA+
A-AA+
Select Page

अल्युमिना रिफाइनरी के दूसरे चरण का विस्तार

होम / परियोजनाएं / अल्युमिना रिफाइनरी के दूसरे चरण का विस्तार

सारांश

स्वामी/स्थान: नालको, दामनजोड़ी (ओडिशा)

कार्य-निष्पादन की प्रकृति: ईडीपी, फीड एवं परियोजना प्रबंध सेवाएँ 

प्रमुख विशेषतायें
  • समग्र क्षमता: ब्राउन फील्ड स्मेल्टर की 1.5 एमएमटीपीए से 2.1 एमएमटीपीए क्षमता वृद्धि
  • प्रमुख प्रोसेसिंग यूनिटें: स्टैकर और रिक्लेमर, क्रशिंग और ग्राइंडिंग, प्री/पोस्ट डेसिलिकेशन, डाइजेशन, एचआरडी/डीसीडब्ल्यू, सिक्युरिटी फिल्टर, प्रेसिपिटेशन, हीट एक्सचेंजर, कैलसिनेशन, ईवैपोरेशन आदि।
  • परियोजना की कुल लागत: 1350 करोड़ रूपये
  • निर्धारित समय 42 माह
Alumina Refinery

चुनौतियाँ

प्रोसेस : शून्य अपशिष्ट डिस्चार्ज

इंजीनियरिंग
  • स्टेट-ऑफ-द-आर्ट टेक्नोलॉजी का प्रयोग अर्थात् एचआरडी/डीसीडब्ल्यू, डायस्टर फिल्टर, वाइब्रेटिंग ग्राइंडर जिससे नुकसान कम हो।
  • 35 मीटर की ऊँचाई पर 4500 घन मीटर तक की क्षमता के टैंकों की इंजीनियरिंग और डिजाइन।
  • बेहतर लॉजिस्टिक्स, लागत लाभ और कम मेंटेनेंस हेतु कम्प्रेस्ड एयर की जरूरतों को पूरा करने के लिए सेंट्रलाइज्ड कम्प्रेस्ड एयर सिस्टम डिजाइन किया गया।

अधिप्राप्ति: अधिप्राप्ति के क्रम में 150 वेंडरों से सौदा हुआ।

निर्माण
  • पैकेज ठेकेदारों सहित 40 ठेकेदारों को साइट पर लगाया गया।
  • कठिन भौगोलिक क्षेत्र और पहाड़ी क्षेत्र के साथ भारी बारिश ने काफी चुनौतियाँ खड़ी की।

उपलब्धि

एचएसई: दुर्घटनावश समयक्षति नहीं

External site alert

This link shall take you to a webpage outside https://engineersindia.com/hindi. For any query regarding the contents of the linked page, please contact the webmaster of the concerned website.