A-AA+
A-AA+
Select Page

ईपीसी

EPCईआईएल उच्च गुणवत्ता एवं सुरक्षा मानकों के साथ ‘संकल्पना से लेकर कमीशनिंग’ तक के लिए प्रबंधन सेवाओं की एक पूरी  रेंज प्रदान करता है। हम स्वयं तथा भारत और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित उपकरण निर्माताओं और निर्माण संबंधी कंपनियों के सहयोग से ईपीसी सेवा उपलब्ध कराते हैं।

विशेष रूप से जटिल प्रौद्योगिकियों सहित परियोजना संबंधी जोखिम, मुश्किल स्‍थानों या परिस्थितियों या एकमुश्त या निर्धारित कीमत अनुबंध के क्षेत्र की हमारी समझ और उनका आंकलन हमें इस योग्य बनाता है कि हम चुनिन्दा बाजार में प्रवेश करें या उन परियोजनाओं को स्वीकार करें जिनमें हम सर्वोत्तम प्रदर्शन कर सकते हैं। इन्हीं घटकों के कारण, ईआईएल ने कार्यक्षम परियोजना प्रबंधन और इंजीनियरिंग क्षमताओं, आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन और ऑन-साइट पर निर्णय लेने की योग्यता के साथ परियोजना निष्पादन को प्रदर्शित करने के लिए एक साख कायम की है।

हम परियोजना विशेष जोखिम प्रबंधन और निर्विघ्‍न कार्यनीति का पालन करते हैं। इस कार्यनीति के मूल में हमारी गहन जानकारी और योग्यता है जिसका आधार विभिन्न परियोजनाओं से संबंधित जोखिमों के पहचान के लिए हमारा व्यापक कार्य अनुभव है। जोखिमों का आंकलन करना और प्रोफाइल बनाना भिन्‍न-भिन्‍न प्रबंधन/निर्विघ्‍न कार्यनीति को पूरा करता है जो कि परियोजना केंद्रित है और जोखिम के प्रकार के लिए सर्वथा उपयुक्‍त है।

ओपेन बुक पर आधारित ईपीसी अनुबंध

एक उचित और पारदर्शी जोखिम-रिवार्ड साझेदारी के साथ वास्तविक और तयशुदा परियोजना लागत को ध्यान में रखकर निर्धारित समयावधि में  परियोजना का कार्य निष्पादन करने के लिए ओपेन बुक अनुमानित संविदा डिजाइन की जाती है। ओबीई संविदा द्वारा ग्राहकों को प्रदत्त लाभ यह है कि इससे अंतिम लागत का अनुमान लगाया जा सकता है तथा साथ ही इसमें इतना लचीलापन या बीच में  उस परिवर्तन/अनुकूलन की गुंजाइश रहती है जो उस मॉडल के लिए अपेक्षित होती है।

ईआईएल वैश्विक स्तर के कुछ चुने हुए ठेकेदारों में से एक है जिसके पास एक ऐसा विश्वसनीय ट्रैक रिकॉर्ड है जिसने विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों जैसे रिफाइनिंग, गैस प्रोसेसिंग, पाइपलाइन्स और पेट्रोकेमिकल्स में ओबीई संविदाओं का सफलतापूर्वक निष्पादन किया है।

हमें प्रायः प्री-फीड चरण में ही ओबीई ठेकेदार के रूप में लगा लिया जाता है जिससे हमें डिजाइन, इंजीनियरिंग और अधिप्राप्ति प्रक्रिया में महत्वपूर्ण मूल्य संवर्धन का अवसर प्राप्त हो जाता है। स्वामी और ईआईएल अपने-अपने अनुभव के सम्‍म‍िश्रण से न केवल एक यथार्थपरक समय सीमा एवं परियोजना लागत तय करने में सक्षम होते है बल्कि प्रारम्भ में परियोजना निष्‍पादन कार्यनीति तैयार कर लेते है जिससे कि परियोजना को समय से पहले पूरा करके तय कीमत को कम किया जा सके और अधिक समय लगने से बचा जा सके। 

प्रमुख परियोजनाएं

एचपीसीएल राजस्थान रिफाइनरी लिमिटेड की राजस्थान रिफाइनरी परियोजना के लिए रेजीडुअल यूटिलिटीज एवं ऑफ-साइट।
हिंदुस्‍तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड की विजाग रिफाइनरी आधुनिकीकरण परियोजना के लिए रेजिडुअल यू यूटिलिटीज एवं ऑफ-साइट एवं पीआरयू का सुधार।
गुजरात पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन की काकीनाडा स्थित दीन दयाल क्षेत्र विकास परियोजना के लिए ऑनशोर गैस टर्मिनल।
मंगलौर रिफाइनरी एवं पेट्रोकेमिकल्‍स लिमिटेड, मंगलौर में पेट्रो, एफ०सी०सी०, सल्फर ब्लाक, पॉलीप्रोपीलीन इकाई एवं एसपीएम तथा रिफाइनरी विस्तार एवं उच्चीकरण हेतु सम्बन्धित सुविधायें (चरण-।।।)
चेन्नई पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के लिए यूरो-VI मानक के अनुरूप गुणवत्ता उच्चीकरण परियोजना, जिसमे डीएचडीटी और एनएचटी/आईएसओएम सम्मिलित है।
आईओसीएल, सीपीसीएल, बीपीसीएल, एमआरपीएल, एचएमईएल के लिए भारत में 10 रिफाइनरी इकाई हेतु यूरो-VI (भारत- VI) मानक के अनुरूप ईधन की गुणवत्ता हेतु उच्चीकरण परियोजना।
इण्डियन आयल कारपोरेशन की पानीपत नैप्था क्रैकर परियोजना के लिए एलएलडीपीई/एचडीपीई स्विंग इकाई (ईपीसीसी-3 पैकेज)
इण्डियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के पानीपत में (एकीकृत पीएफ-पीटीए परियोजना के लिए) ईपीसीसी पैकेज 1 और 2
तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड के लिए एमएनडब्लू प्रासेस प्लेटफार्म।
तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड की डी-1 वेल-सह-वाटर इंजेक्‍शन प्लेटफार्म।
पीएनसी काम्प्लेक्स, आईओसीएल में ब्यूटीन-1
दमन विकास परियोजना के अन्तर्गत हजीरा संयंत्र में संशोधन कार्य।

External site alert

This link shall take you to a webpage outside https://engineersindia.com/hindi. For any query regarding the contents of the linked page, please contact the webmaster of the concerned website.